Heer Ranjha -Bhuvan Bam Song Mp3 & Lyrics

Heer Ranjha

Heer Ranjha

Written:Bhuvan Bam
Composed:Bhuvan Bam
Sung by: Bhuvan Bam
Music Production: Omkar Tamhan
Additional Music production: Shantam Goel
Guitars: Chaitanya Bhaidkar
Mixed and mastered by: Shadab Rayeen
Home Mic Setup: Joshua Moses

Heer Ranjha

Song Lyrics In Hindi

चल ढूँढ लाएँ
सारी माशुम सी ख़ुशियाँ
चल भूल जाएँ
फ़ासले दरमियाँ

किसने बनाया
दस्तूर ऐसा
जीना सिखाया
मजबूर जैसा

दिल रो रहा है
दिल है परेशान
हीर और रांझा
के इश्क़ जैसा

कहते है जो पन्ने
होते नहीं पूरे
करते बहुत कुछ बयां

मिल जाऊँगा फिर उन किताबों में
हो जहाँ ज़िकर तेरा

तू तू
मैं और तू
तू तू
मैं और तू

किसने बनाया
दस्तूर ऐसा
जीना सिखाया
मजबूर जैसा

Heer Ranjha Song Mp3

आँखें मेरी सपना तेरा
सपने सुबह शाम हैं
तू है सही या मैं हूँ सही
किसपे ये इल्ज़ाम है

आँखें मेरी सपना तेरा
सपने सुबह शाम हैं
तू है सही या मैं हूँ सही
किसपे ये इल्ज़ाम है

ऐसी लगन बांधे हुए
हूँ मैं खड़ा अब वहाँ
जिस छोर पे
था छूटा मेरा
हाथों से तेरे हाथ

जिसने हँसाया जिसने रुलाया
जीना सिखाया मजबूर जैसा

जाना है जा
है किसने रोका
हीर और रांझा
के इश्क़ जैसा

तू तू
मैं और तू

तू तू
मैं और तू

Latest Punjabi Songs 2020

Song Lyrics In English

Chal dhund laaye
saari masoom sii khooshiyaan
chal bhul jaaye
faasle darmiyaan

Kisne banaya
dastuur aisa
jina sikhaya
majboor jaisa

Dil ro raha hai
Dil hai pareshaan
Heer Aur Ranjha ke
ishq jesa

Kehte hain jo pahnae
hote nahi pure
karte bahut kuch baya”n

Mil jaunga fir unn kitaabo mein
ho jaha jikar teraa

Tu tu
Mein aur tu
tu tu
mein aur tu

Heer Ranjha Song Mp3

Kisne banaya
dastuur aisa
jina sikhaya
majboor jaisa

Aankhe meri sapna tera
sapne subh shyaam hain
tu hai sahi yaa main hu sahi
kispe yeh ilzaam hai

Aankhe meri sapna tera
sapne subh shyaam hain
tu hai sahi yaa main hu sahi
kispe yeh ilzaam hai

Aisi lagan baandhe huye,
hu main khada ab waha
jis chhor pe tha chuuta mere
haatho se tere haath

Jisne hasaya jisne rulaya
jina seekhaya majboor jaisa

Jana hai jaa
hai kisne roka,
Heer aur Ranjha
ke ishq jaisa

Tu tu
Mein aur tu
tu tu
mein aur tu

Heer Ranjha – Bhuvan Bam | Official Music | Mp3 |

Leave a Reply